BREAKING- फिर बजा योगी का डंका, सीएम बनने की दौड़ में हुए आगे

गोरखपुर से बीजेपी के फायर ब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ का फिर से डंका बज गया है। बीजेपी ने अभी तक यूपी में किसी को सीएम पद का प्रत्याशी नहीं बनाया है लेकिन इस सर्वे ने बीजेपी को नया मौका दे दिया है। बिना सीएम प्रत्याशी बनाये ही इतने लोगों ने योगी के पक्ष में अपना समर्थन जताया है।

yogi-adityanath-amit-shah-dolphin-post

file photo

यूपी चुनाव से पहले एक निजी न्यूज चैनल ने ओपिनियन पोल कराया है। जिसमे यूपी में बसपा, सपा और बीजेपी के साथ कांग्रेस की स्थिति को दिखाया गया है। ओपिनियन पोल के अनुसार यूपी में सपा से सीएम पद के प्रत्याशी सीएम अखिलेश यादव को सबसे अधिक 28 प्रतिशत लोगों ने पसंद किया है जबकि बसपा सुप्रीमो मायावती को दूसरा स्थान देते हुए 21 प्रतिशत लोगों ने बेहतर सीएम माना है। सबसे अधिक चौंकाने वाला नाम योगी आदित्यनाथ का है। बीजेपी के सीएम पद पर अन्य लोगों के साथ योगी आदित्यनाथ का नाम भी चल रहा है, जिसमे 8 प्रतिशत लोगों ने माना है कि योगी आदित्यनाथ यूपी के अच्छे सीएम हो सकते हैं। बसपा की सीएम प्रत्याशी मायावती है।

जानिए किस पार्टी को मिल रही कितनी सीट

ओपिनियन पोल के सर्वे में सबसे बड़ी पार्टी सपा बन कर उभर रही है। इसके बाद बीजेपी व बसपा का नम्बर आता है सबसे खराब स्थिति कांग्रेस की बतायी जा रही है। फिलहाल यूपी में वर्ष 2017 में यूपी विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे यह जनता तय करेगी कि अगली सरकार किसकी होगी। फिलहाल ओपिनियन पोल के अनुसार अभी चुनाव होते हैं तो इस बार त्रिशंकु विधानसभा होने की संभावना बन रही है।

जानिए 403 विधानसभा क्षेत्र में किस पार्टी को मिल सकती है कितनी सीट

एसपी 141-151,बीजेपी 129-139,बसपा 93-103 व कांग्रेस 13-19

कांग्रेस व सपा का गठबंधन भी नहीं दिला पायेगा बहुमत

ओपिनियन पोल की माने तो सपा और कांग्रेस का गठबंधन भी यूपी में बहुमत की सरकार नहीं बना पायेगा। फिलहाल अभी सपा कुनबे की कलह अभी थमी नहीं है यदि सीएम अखिलेश यादव व मुलायम सिंह यादव अलग-अलग चुनाव लड़ते हैं तो उसके समीकरण अलग भी हो सकते है। फिलहाल सर्वे ने सभी दलों को उनकी स्थिति दिखा दी है।
Advertisements